पतंजलि मेदोहर वटी सेवन करने की विधि तथा फायदे || Patanjali Medohar Vati Hindi me

   

     दोस्तों में आज आपको  इस ब्लॉग में बताने जा रहा हूं पतंजलि मेदोहर वटी जो कि शरीर का मोटापा कम करने में बहुत काम आती है तो आइए नीचे हम जानते हैं इसके बारे में पूरी जानकारी


Weight lose


पहले जानते हैं की दिव्य मेदोहर वटी में कौन – कौन से घटक डाले गए हैं-

  • शुद्ध गुग्गुलु
  • शिलाजीत सत
  • हरड़
  • बहेड़ा
  • आंवला
  • कुटकी
  • पुनर्नवामूल
  • निशोथ
  • वायविडंग आदि का घनसत।


दिव्य मेदोहर वटी के फायदे तथा गुण –


  •  यह पाचन तंत्र में आए विकृति को दूर कर शरीर के अतिरिक्त बढ़े हुए मेद ( फैट) को कम करके शरीर को सुंदर, सुडोल, कांतिमय व स्फूर्तिमय बनाती है।


  •  यह थायराइड की विकृति , संधिवात , जोड़ों का दर्द,  कमर दर्द, घुटनों में दर्द में विशेष लाभ प्रदान करती है।


  •  यह शरीर के मेद का पाचन करके हड्डी, मज्जा व शुक्रादिको धातुओं को पुष्ट करती है, अर्थात मेद को रूपांतरित कर के शरीर को गठीला बनाती हैं इसके सेवन करने से शरीर पर कोई भी दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है।


दिव्य मेदोहर वटी का कैसे सेवन करना चाहिए –


  • 1-1 या 2-2 गोली शरीर के वजन के अनुसार दिन में दो या तीन बार खाने से आधा घंटा पहले या भोजन के 1 घंटे बाद गुनगुने पानी से सेवन करें ।

  •   मीठा व घी बंद करके प्रात उठकर उठकर तथा दिन में भी गुनगुने पानी पानी पीते रहे।

  •     तली हुई व मैदे से बनी हुई चीजें खाने से मोटापा बढ़ता है इसलिए ऐसे पदार्थों का सेवन ना करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.