अब आंखें दिखेंगी तरोताजा || Now eyes will look refreshed || Eyes Refreshed.

 अब आंखें दिखेंगी तरोताजा 

Now eyes will look refreshed


   घंटों कंप्यूटर पर काम करने के साथ साथ घर की जिम्मेदारियां ओर साथ ही महामारी का तनाव भी झेलना । इन सबका असर हमारी आंखों पर सबसे पहले दिखाई देता है । आंखों में ताजगी eyes refreshed की चमक कैसे बरकरार रखें , बता रहे है आज के इस आर्टिकल में Now eyes will look refreshed


Now eyes will look refreshed || Eyes Refreshed.
eyes refresh



    फिट और सुंदर बने रहने के लिए आंखों का भी विशेष रूप से ध्यान रखना बहुत जरूरी है । ये बात महिलाओं के लिए खासतौर पर इसलिए भी आवश्यक है , क्योंकि सारे दिन की भागदौड़ , नींद पूरी ना होना , पोषण की कमी और आंखों- के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले सौंदर्य प्रसाधन आंखों की सेहत को काफी प्रभावित करते हैं । पर कुछ छोटी – छोटी बातों का ध्यान रख कर बिना किसी तामझाम के आंखों को जवान और खूबसूरत आसानी से बनाए रखा .. जा सकता है । 

    सोने से पहले (Before bed)-

    अब आंखों के मेकअप के लिए कई तरह के प्रोडक्ट बाजार में आ गए हैं , जो आंखों को मनचाहे रूप और आकार में ढाल सकते हैं । पर इन उत्पादों को तैयार करने में जिन रसायनों का इस्तेमाल होता है , वह आंख की नाजुक त्वचा को बहुत नुकसान पहुंचाते हैं । इसलिए मेकअप हटाए बिना रात को ना सोएं ।


    सूरज से बचें ( Avoid the sun )-

        तेज धूप में ज्यादा देर तक रहने से आंखों के आस – पास झुर्रियां पड़ने की आशंका बढ़ जाती है । इसलिए बेहतर होगा कि एसपीएफयुक्त अच्छी गुणवत्ता वाली सनस्क्रीन लगाने के साथ – साथ बाहर निकलते समय सनग्लासेज का भी इस्तेमाल किया जाए । वैसे , आप चाहें तो कैपया हैट भीलगा सकती हैं , जो न केवल आंखों को सुरक्षा देंगे , बल्कि आपको स्टाइलिश भी दिखाने में मदद करेंगे ।


     आंखों के लिए जरूरी हाइड्रेशन (Hydration required by the eyes)-

       डीहाइड्रेशन से बचने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीने की सलाह दी जाती है । इससे हमारे शरीर में तो पानी का स्तर संतुलित बना रहता है पर आंखों की सेहत के लिए यह नाकाफी है । दरअसल , हमारी आंखों के आस – पास की त्वचा शुष्क होती है और इसमें कोई तैलीय ग्रंथि नहीं होती । इसलिए शरीर के इस हिस्से को अलग से पोषण की जरूरत होती है । वरनाअसमय झुर्रियों की समस्या पैदा हो सकती है । इससे बचने के लिए कोलेजन युक्त अंडर आई क्रीम और एलोवेरा जेल से आंखों के आस – पास के हिस्से की नियमित रूप से मसाज करें । 


    बुरी है आंख रगड़ने की आदत (Bad eye rubbing habit)-

     सो कर उठने के बाद , थकान होने पर , आंख में कुछ गिर जाने पर या खुजली होने पर अक्सर हम आंख मलना शुरू कर देते हैं जो आंख की कोमल त्वचा को बुरी तरह से नुकसान पहुंचा सकता है । दरअसल , ऐसा करने से आंख के नीचे की नाजुक त्वचा बुरी तरह प्रभावित होती है और झुर्रियां पड़ने लगती हैं । इसलिए कभी भी आंख को तेजी से ना मसलें । 


    हमेशा खुश रहें (Always be happy)-

    आंखों की सेहत और चमक को बनाए रखने के लिए हंसने से बेहतर कोई दूसरा उपाय नहीं है । असल में गुस्सा आने पर भवें तन जाती हैं और आंखें अपने आप छोटी हो जाती हैं । इससे आंखों के आस – पास की.त्वचा ढीली होकर सिकुड़ने लगती हैं और झुर्रियां पड़नी शुरू हो जाती हैं । इसीलिए तनावमुक्त रहें । इससे चेहरे की मांसपेशियों का लचीलापन तो बढ़ेगा ही , साथ ही आंखें चमक उठेगी ।


    चुनें सही उत्पाद (Choose the right product)-

    मेकअप करना अधिकतर महिलाओं को अच्छा ही लगता है । इसीलिए उनकी ये कोशिश भी रहती है कि वे हर नए ब्यूटी प्रोडक्ट को कम से कम एक बार तो ट्राई जरूर करें । जब सौंदर्य प्रसाधनों का चुनाव करते समय उनकी गुणवत्ता पर ध्यान नहीं दिया जाता तो परेशानी होने लगती है । इसलिए हमेशा उच्च गुणवत्ता वाले ब्रांडेड उत्पाद ही इस्तेमाल करें । दूसरी अहम बात यह है कि अपनी उम्र के अनुरूप ऐसे उत्पाद खरीदें , जो आंखों की खूबसूरती बढ़ाने के साथ – साथ उसे पोषण भी दें । यदि किसी उत्पाद के इस्तेमाल के बाद जलन या खुजली की शिकायत हो तो उसे इस्तेमाल करना बंद कर दें ।


    यह भी पढे👇


    Leave a Reply

    Your email address will not be published.