Patanjali Livogrit tablet in Hindi || लिवोग्रिट के फायदे तथा सेवन विधि, सावधानियां || Patanjali Divya Livogrit tablet

Patanjali Livogrit tablet

    आज के इस आर्टिकल में हम बात करेंगे पतंजलि की दिव्य फार्मेसी द्वारा निर्मित आयुर्वेदिक औषधि लिवोग्रिट के बारे में इस ब्लॉग में हम Livogrit के फायदे, सेवन विधि तथा लाभ और हानि के बारे मे-


लिवोग्रिट क्या है?
What is Livogrit?

   लिवोग्रिट पतंजलि आयुर्वेद की जड़ी बूटियों द्वारा निर्मित एक आयुर्वेदिक औषधि है। जो कि लीवर से संबंधित हर समस्या के लिए बहुत ही उपयोगी सिद्ध हो रही है । किसी भी प्रकार की लीवर में समस्या के लिए यह रामबाण औषधि है।


लिवोग्रिट में डालने वाले मुख्य घटक:-
Components of Livogrit:-

  • पुनर्नवा ( Punarnava)
  • भूमि आवला ( Phyllanthus Niruri)
  • मकोय ( Solanum Nigrum)


लिवोग्रिट के फायदे:-
Benifit of Livogrit:-

  • बदहजमी अपच में लाभकारी है।
  • पेट का भरा हुआ महसूस होना में आराम मिलेगा।
  • भूख का कम लगना ।
  • खाना खाने के बाद सीने में जलन होना।
  • पाचन क्रिया को दुरुस्त करता है।
  •  गैस की समस्या से छुटकारा मिलता है।
  • उल्टी आने में लाभदायक है।
  • पेट में दर्द होना।
  • भूक का कम लगना या भूक का बिल्कुल ना लगना।
  • पीलिया होना – पीलिया होने पर आंखों का सफेद हिस्सा तथा त्वचा का रंग पीला पढ़ने लगता है। अगर इसका सही समय पर इलाज नहीं किया जाता तो यह आगे चलकर घातक साबित हो सकता है। इसके लिए लिवोग्रिट बहुत ही उपयोगी आयुर्वेदिक औषधि है।



लिवोग्रिट लेने की विधि:-
Doses of Livogrit:-

दो-दो गोली खाना खाने के बाद गुनगुने पानी के साथ लेनी चाहिए या चिकित्सक परामर्श अनुसार लेनी चाहिए।

सावधानियां:-
Precautions of Livogrit:-

  • ज्यादा तला-भुना भोजन सेवन ना करें।
  • फास्ट फूड खाने से बचें।
  • मैदे से बने पदार्थ नहीं खाने हैं।


लिवोग्रिट की उपलब्धता:-
Available of Livogrit:-

   यह आपको अपने नजदीकी पतंजलि स्टोर या पतंजलि की वेबसाइट पर ऑनलाइन आर्डर करके मंगा सकते हैं।


 लिवोग्रिट की कीमत:-
Price of Livogrit:-

  • 60 Tabs- 240₹

यह भी पढ़े👇

One thought on “Patanjali Livogrit tablet in Hindi || लिवोग्रिट के फायदे तथा सेवन विधि, सावधानियां || Patanjali Divya Livogrit tablet

  • February 21, 2022 at 12:54 pm
    Permalink

    Sir mujhe safed daag h m patanjali se dawai le rha hu 2months ho gya h kuch fark nhi h

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.