गर्मी में sanitizer और mask से बढ़ी परेशानियां || Problems increased due to Sanitizer and Mask in summer

  गर्मी में sanitizer और mask से बढ़ी परेशानियां

Problems increased due to 
Sanitizer and Mask in summer

Problems increased due to Sanitizer and Mask in summer
sanitizer, mask


     COVID -19 से बचने के लिए मास्क और sanitizer ये जरूरी चीजें बन गए हैं । बीते एक साल से हमारे साथ ये लगभग हमारे मित्र गए हैं । बढ़ती गर्मी और उमस के इस मौसम में मास्क पहने रहना एक प्रकार से सजा से कम नहीं है । इस वजह से चेहरे पर खुजली होना , मुंहासे व दानों की समस्याओ का बढ़ना। मास्क पहनने से जो मुंहासे निकल रहे हैं , उन्हें मास्कने का नाम दिया है । आइये जानते हैं कुछ समस्याओं के समाधान के बारे में-

    रगड़ से रैशेज होनाः- 

          आपकी त्वचा चाहे कैसी भी हो , पर हर समय मास्क लगाए रखना त्वचा पर असर तो डालेगा ही । लगातार मास्क पहनना , बार – बार सही करते रहना  , चेहरे पर रगड़ पैदा करता है , जिससे रैशेज पड़ने लग जाते हैं । चेहरे पर जलन पैदा होने लगती है । कई बार ऐसा मास्क के मैटीरियल से भी हो जाता है । Mask जिस मैटीरियल से बना है , अगर त्वचा को उस material से एलर्जी है तो भी रैशेज निकलने की संभावनाएं हैं । 


    मास्कने ( मास्क के कारण एक्ने ) की समस्याः- 

         गर्मी में पसीना भी ज्यादा आता है । मास्क में सांस लेने की वजह से पसीना मास्क में अंदर फेस पर  ही रुक जाता है । इससे बैक्टीरियल इंफेक्शन होने से फुसियां हो जाती  हैं । शरीर में जहां अधिक पसीना बनता है , वहां  नमी बनी रहने की वजह से संक्रमण हो जाता है । 


    हाथ रूखे और बेजानः- 

        बार – बार सेनिटाइजर का यूज़ हाथों की त्वचा को रूखा और बेजान करता है । सेनिटाइजर में 70% alcoholic का प्रयोग होता है , जो त्वचा की नमी को समाप्त करत  है ।


    क्या करें:-

    • सबसे पहले सही मास्क का ही चुनाव करें । अगर आप किसी कोविड के मरीज की सेवा कर रहे हैं तो एन -95 मास्क ही पहनें , नही तो इसे पहनने की कोई जरूरत नहीं है । 2 या 3 परत वाला  कॉटन मास्क पहनना ठीक रहेगा, क्योंकि सूती कपड़ा पसीने को सोखने में अच्छे से मदद करता है ।
    • चेहरे पर दानों या मुंहासों से बचने के लिए मास्क को बार – बार  adjust न करे ।
    • तैलीय  त्वचा है तो किसी भी प्रकार का मॉइस्चराइजर न प्रयोग करे । सामान्य त्वचा है तो लोशन का प्रयोग करे । त्वचा बहुत ज्यादा रूखी है तो क्रीम लगाएं । 
    • अगर मास्कने की समस्या हो रही है तो फेस पर किसी भी  मेकअप का प्रयोग न करें व जैल युक्त मॉइस्चराइजर  का उपयोग करें ।
    • हाथों की त्वचा को बेजान होने और सेनिटाइजर के side-effect से बचाने के लिए जहां तक हो सके , माइल्ड साबुन से हाथ धोएं । उसके बाद हाथों पर क्रीम का प्रयोग कर लें ।
    • बाजार में कई तरह के hand sanitizer उपलब्ध हैं । कई में Alcohol की मात्रा कम रहती है और वे सुरक्षित भी होते हैं । अगर त्वचा की समस्या है तो इनका इस्तेमाल करें।
    • हाथों का रूखापन दूर करने के लिए रात में कोकोनेट आयल या गुलाब जल का use करें । समय – समय पर मास्क को हटाकर फेस की त्वचा को जैल युक्त फेस वाश से साफ करते रहे ।
    • चेहरे पर रोजाना Aloe vera gel का प्रयोग करें ।
    • मास्क को समय-समय पर बदलते रहें ।
    • मेकअप त्वचा के रोमछिद्रों को बंद कर देता है , जिससे संक्रमण की आशंका बढ़ती है । ‘ ऑयल free मेकअप product use करें । 
    • चेहरे को 2 से 3 बार गुनगने पानी से धोएं तथा मास्क पहनने के कारण अगर पसीना आ रहा है तो फेस को धोएं , पर चेहरे को ज्यादा रगड़े नहीं । उसे हल्के हाथ या सूखे तौलिए से थपथपाएं । 
    • समस्याएं ज्यादा है तो त्वचा रोग विशेषज्ञ से मिलें ।

    यह भी देखे 👇👇👇

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.