घर को पहनाएं सुरक्षा कवच || Wear the home protective shell

 घर को पहनाएं सुरक्षा कवच

Wear the home protective shell



     कोरोना की दूसरी लहर ने भारत की स्थिति को काफी गंभीर बना दिया है । यह वायरस किसी भी जगह , कहीं भी फैल सकता है । यहां तक कि जिस स्थान को सबसे ज्यादा सुरक्षित मानती हैं यानी कि आपका घर , वह भी इसकी चपेट में आ सकता है । हर रोज ही लाखों की संख्या में संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं । ऐसे में अपने घर व परिवार को सुरक्षित रखना और भी जरूरी हो गया है । अगर आपके घर के किसी एक व्यक्ति को भी कोविड -19 होता है , तो यह आपके घर में दूसरे लोगों में भी फैल सकता है । आइए जानें कि आप कोविड -19 को अपने घर से दूर रखने के लिए क्या कर सकती हैं और यदि आपके घर में कोई संक्रमित है , तो आप इसे फैलने से बचाने के लिए क्या कर सकती हैं ।


Wear the home protective shell
Home cleaning


    घर को कैसे करें तैयार-

       संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए आपको सक्रिय होने की जरूरत है । आपके घर में यदि कोई सदस्य कोरोना से संक्रमित है , तो उसे अलग कमरे में ही रखें । हो सके तो उसे अलग बाथरूम का इस्तेमाल करने के लिए दें । यही नहीं घर के सभी सदस्य और रोगी को मास्क पहन कर रहना चाहिए । जिस कमरे में संक्रमित मरीज है , उस कमरे में हवा का अच्छा स्रोत हो । किसी भी बाहरी व्यक्ति को घर में आने की अनुमति न दें । घर के पालतू जानवरों को संक्रमित व्यक्ति से दूर रखें । संक्रमित व्यक्ति के बर्तन और तौलिया या कपड़े अलग रखें । साथ ही सभी सदस्यों को बार बार अच्छे से हाथ धोने के लिए कहें । संक्रमित व्यक्ति की देखभाल करते हुए अपनी नाक , मुंह और आंख छूने से पूरी तरह से बचें ।


    इन बातों का रखें ख्याल –

       अगर आप अपने घर में किसी संक्रमित व्यक्ति की देखभाल कर रही हैं तो डिस्पोजेबल मास्क और दस्ताने पहनें । जब दस्तानों को और मास्क को हटा रही हों तो सबसे पहले अपने दस्ताने उतारें और उसे साबुन के घोल में डालने के बाद डस्टबीन में फेंकें । फिर अपने हाथों को अच्छे से साफ करें । हाथों को अच्छी तरह से साफ करने के बाद ही अपने चेहरे से मास्क हटाएं और फिर से हाथों को अच्छे से दोबारा धोएं या फिर सैनिटाइजर से साफ करें । एक बार दस्ताने और मास्क का इस्तेमाल करने के बाद उसका दोबारा इस्तेमाल ना करें । घर में सभी सतहों को साफ करने के लिए एक स्प्रे या कीटाणुनाशक पोंछे का इस्तेमाल करें । आप घर की जिन चीजों के संपर्क में नियमित रूप से आती हैं , उन्हें स्प्रे से साफ करें । घर के काउंटर , टेबल , डोर नॉब्स , नल हैंडल , टॉयलेट हैंडल आदि पर कीटाणुनाशक स्प्रे का इस्तेमाल करें ।

    यदि बच्चा हो जाए संक्रमित –

       कोरोना की दूसरी लहर की चपेट में बच्चे भी काफी तेजी से आ रहे हैं । ऐसे में माता – पिता को भी देखरेख के लिए काफी सजग रहने की जरूरत है । यदि बच्चे में बुखार , खांसी , सांस लेने में तकलीफ , खराशें , बहती नाक , ठंड लगना , शरीर में दर्द , महक न आना और स्वाद न मिलना , शरीर में सूजन , पेट में दर्द , दस्त , दाने , गले में दर्द , आंखों में लाली , फटे होंठ जैसे लक्षण दिखाई दें , तो आप डॉक्टर या हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करें और लक्षणों के बारे में चर्चा करें । आपका डॉक्टरस्थिति के आधार पर बताएगा कि आपके बच्चे का इलाज घर में किया जा सकता है या उसे हॉस्पिटलले जाने की जरूरत है । इस स्थिति में परिवार को सुरक्षित रखने के लिए आप कुछ खास कदम उठा सकती हैं : 

    • आप बच्चे को अन्य सदस्यों से दूर रखने की कोशिश करें । अगर बच्चे की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव है तो घर के अन्य सदस्यों का भी टेस्ट करवाएं । 
    • केवल एक व्यक्ति ही बीमार बच्चे की देखभाल करें ।
    •  बच्चा 2 साल से बड़ा है और वह मास्क पहन सकता है तो बच्चे को कॉटन का मास्क पहनाएं , खासकर जब बच्चे की देखभाल करने वाला सदस्य उसके साथ कमरे में हो और यदि बच्चे को मास्क लगाकर सांस लेने में परेशानी है तो देखभाल करने वाला व्यक्ति मास्क लगाए । पर ध्यान रखें कि बच्चा मास्क लगाकर अकेले कमरे में न रहे । मास्क लगाने व हटाने का सही तरीका बताएं ।
    यह भी देखे 👇👇👇

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.