प्रेगनेंसी में गैस बनने की समस्या को ठीक कैसे करे || Pregnancy me gas ki samasya ko kese theek kre

प्रेगनेंसी में गैस बनने की समस्या को ठीक कैसे करे

pregnancy me gas ki samasya ko kese theek kre

     जब कोई महिला पहली बार मां बनती है तो वो अपने बच्चे के स्वस्थ के लिये काफी चिंतित होती है ऐसे में अगर गर्भावस्था में बार – बार गैस बनने की समस्या हो रही हो तो गर्भवती महिला की चिंता जायज होती है । आज हम आपकी समस्या को हल करने के लिये इस विषय मे पूरी जानकारी लेकर आये है –

 

गर्भ अवस्था मे बार – बार गैस क्यों बनती है|

garbhavastha mai baar – baar gas kyu banti hai –

     गर्भावस्था में गैस बनाना सामान्य सी बात है और कई बार ऐसा हो सकता है कि गर्भवती महिला को जरूरत से ज़्यादा गैस बने , ऐसी स्थिति में आपको घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि जब कोई महिला गर्भवती होती है तो उसके शरीर हार्मोन्स प्रोजेस्टीरोन की मात्रा कही ज़्यादा होती है ।

 

    ऐसी स्थिति में शरीर मे मौजूद मांसपेशियां में ऊतक शिथिल हो जाता है जिनमे पाचन करने वाली मांसपेशियां में भी समस्या आती है जिस वजह से गर्भवती महिलाओं को जरूरत से ज़्यादा गैस बनती है ।

 

 

गर्भ अवस्था मे गैस बनने के मुख्य कारण| garbhavastha mai gas banne ke mukh karan –

    अगर हम गैस बनने की बात करे तो ये आम बात है लेकिन जब किसी गर्भवती महिला के गैस बनती है तो वो इस बात से चिंतित हो जाती है की कही इस गैस की संमस्या से उनके बच्चे को कोई नुकसान ना हो ।

लेकिन हम आपकी जानकर के लिये बता दे गैस बनने से आपके बच्चे को किसी भी प्रकार का कोई नुकसान नहीं होगा।

लेकिन अगर आपको ज़्यादा गैस बन रही है तो इसके बीच की क्या वजह होती है चालिये जानते है ।

तेल वाला भोजन – कई बार जब हम भोजन करते है तो उसमे तेल की मात्रा ज्यादा हो जाती है जिस कारण से हमें गैस की समस्या हो जाती है ।

ज़्यादा समय तक भोजन ना करना – आज की इस भागदौड़ भरी जिंदगी में हम भोजन ग्रहण करने का समय नहीं मिल पता जिस वजह से हम अलग – अलग समय मे भोजन करते है , एक वजह ये भी है जिस कारण से हमें गैस की समस्या होती है।

हानिकारक पदार्थ या फिर फंगस लगे भोजन का सेवन करना- कई बार जब भोजन खाते है तो हम है ध्यान नहीं दे पाते है कि भोजन में कोई हानिकारक पदार्थ या फिर भोजन में लगे फंगस को पहचान नहीं पाते है ।

शराब का ज़्यादा सेवन करना-

कई बार गर्भवती महिला जब जरूरत से ज़्यादा शराब का सेवन कर लेती है तो उससे गैस की समस्या का समान करना पड़ता है।

जरूरत से ज़्यादा भोजन ग्रहण –

गर्भवती महिला के द्वारा जरूरत से ज़्यादा भोजन ग्रहण से वो भोजन का पाचन नहीं कर पाती है जिस कारण से उससे गैस की समस्या होती है।

ज़्यादा चिंता करना या फिर किसी बात की टेंशन लेना –

गर्भवती महिला या फिर कोई भी व्यक्ति जब किसी विषय मे ज्यादा टेंसन लेता है तो उस गैस की समस्या हो जाती है क्योंकि टेंशन लेने की वजह से वो भोजन को पाचन नहीं कर पाते है।

ज़्यादा मीठा खाने से –

जब हम किसी भी मीठी चीज का जरूरत से ज़्यादा सेवन करते है तो भी हमें गैस की समस्या का सामान करना पड़ता है।

योग और व्यायाम ना कर पाना –

गर्भावस्था में अधिकांश महिलाएं योग और व्यायाम नहीं कर पाती है जिस वजह से उंन्हे गैस की समस्या का सामना करना पड़ता है।

गर्भ अवस्था मे बार- बार गैस बनने में क्या उपचार करे –

अगर आप गर्भ अवस्था मे बार -बार गैस बनने से परेशान है तो आप इन उपचार का उपयोग करके गर्भावस्था में गैस बनने की समस्या से निदान मिल जायेगा।

 

पानी का सेवन ज़्यादा करे –

अगर आप गर्भावस्था में बार – बार गैस बनने की समस्या से परेशान है तो आपको पानी का ज़्यादा से ज़्यादा सेवन करना चाहिए ।

पानी का ज़्यादा सेवन करने से शरीर में जो गन्दगी इकठ्ठा होती है वो बाहर निकल जाती है जिससे आपको गैस बनने की समस्या नहीं आती है ।

डाइट के हिसाब से भोजन करे-जब आप गर्भावस्था हो या कोई महिला गर्भवती हो तो ऐसे समय मे उनकी भोजन का ख्याल रखना बहुत जरूरी है कि वो क्या खा रही है ।

सीधे शब्दों में कहे तो आपको हमेशा विटामिन , कैल्शियम और फाइबर से भरपुर भोजन का सेवन करना चाहिए ।

प्रेगनेंसी के समय आपको चुकंदर, हरी मटर, शिमला मिर्च, फूलगोभी, हरी पत्तेदार सब्जियां, भिंडी, गाजर, बैरीज, संतरा, नाशपाती, सेब, कीवी, आम, गेहूं और जौ को जरूर खाना चाहिये आपको , क्योंकि पर्याप्त मात्रा में विटामिन कैल्शियम और फाइबर मौजूद रहता है ।

 

गर्भवती महिला को अगर बार – बार गैस बने तो क्या करना चाहिए?|

Garbhavati mahila ko agar baar- baar gas bane to kya karna chahiye –

अगर आप गर्भवती है और आपको बार -बार गैस बनने की समस्या आ रही है तो आप इन निम्न चरणों (step ) का पालन करके अपनी गैस की समस्या को ठीक कर सकते है ।

सबसे पहले आपको अपने भोजन ग्रहण करने की आदत को बदलना होगा जैसे कि –

अगर आप एक बार मे ही बहुत सारा भोजन ग्रहण करते है तो ऐसा करने की जगह आप थोड़ा -थोड़ा भोजन थोड़े समय अंतराल में करना होगा।

आपको अपना एक फ़ूडमेप तैयार करना होगा जिसमे आपको सभी विटामीन,फाइबर और कैल्शियम से युक्त भोजन होना चाहिए ।

खाने को कभी भी जल्दी -जल्दी ना खाएं बल्कि भोजन आराम से करे । इससे आपको खाने को पचाने में आसानी होगी।

आप खाना खाते समय इस बात का जरूर खयाल रखे कि आपको खाना खाते समय जितना हो सके उतना कम हवा का सेवन करना है।

गर्भावस्था में धूम्रपान का सेवन बिल्कुल भी ना करे क्योंकि ना सिर्फ इससे गैस बनती है बल्कि शिशु के लिये हानिकारक होता है।

खुद को तनाव मुक्त रखने का प्रयास करे , ज्यादा तनाव लेने से भी गैस की समस्या बनती है।

रोजाना व्यायाम करें ,इससे आपको गैस बनने की समस्या निजात मिलेगा ।

सोड़ायुक्त पदार्थों को ना पिये ,क्योंकि इनसे पेट मे गैस बनती है जिसके बाद कई बार डकार भी आती है ।

रोजाना टहले ,इससे आपका पचान तंत्र भी अच्छा होगा।

गर्भावस्था में गैस बनने में किन फलों का सेवन करना चाहिए |

Garbhavastha mai gas banne mai kin falo ka sevan karna chahiye-

अगर आप बार- बार गैस बनने की समस्या से परेशान है तो आप इन फलों का सेवन कर सकते है –

    केला अपने आप मे एक सम्पूर्ण भोजन है क्योंकि इसमें आपको पर्याप्त मात्रा में फाइबर , विटामिन और कैल्शिम होता है । केला को खाने की पश्चात आपको किसी भी प्रकार के गैस नहीं बनती है क्योंकि इसमें मौजूद फाइबर गैस को को कन्ट्रोल करता है।

    तरबूज के के अंदर ऐसे फाइबर मौजूद होते हैं जोकि गैस को बनने ही नहीं देते हैं तरबूज में भारी मात्रा में पानी की उपस्थिति होती है जिस वजह से पेट काफी भरा भरा लगता है और इस वजह से भी गैस नहीं बन पाती हैं।

अंजीर के अंदर एक ऐसा मधुर रस पाया जाता है जो कि गैस को कन्ट्रोल करने का काम करता है । अंजीर में कई प्रकार के प्रोटीन और विटामीन होते है जो कि शरीर के लिये लाभदायक होते है ।

खीरा में तरबूज की तरह इसमें काफी मात्रा में पानी पाया जाता है जो कि पेट पर बन रही गैस को शांत कर देता है। खीरा ना सिर्फ गैस को कंट्रोल करता है बल्कि पेट मे हो रही जलन को शांत कर देता है।

 

READ MORE-

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *